इस महिला ने सीएम के पैरों पर गिरकर लगाई मदद की गुहार


उत्तराखंड। हल्द्वानी में भरी सभा में एक महिला मदद की गुहार मांगते हुए उत्तराखंड के सीएम हरीश रावत के पैरों पर गिर गई। वन भूमि की पेच के कारण स्कूलों को ग्रांट न मिलने से आहत महिला ने एफटीआई में मुख्यमंत्री के पांव पकड़ लिए। जिसके बाद महिला मुख्यमंत्री के पांव पकड़कर जोर-जोर से रोने लगी। इतना ही नहीं महिला ने स्थानीय विधायक एवं श्रम मंत्री के भी आगे हाथ जोड़ी।

महिला मदद की गुहार मांगने के लिए मुख्यमंत्री के पकड़े पांव

दरसल यह मामला तब की है जब एफटीआई ग्राउंड में मुख्यमंत्री हरीश रावत आण काथ क्विज प्रतियोगिता देख रहे थे। तभी बिंदुखत्ता निवासी उमा पांडे अचानक मुख्यमंत्री रावत के पास पहुंची और उनके पैर पकड़कर रोने लगी। ये महिला उनके पैरों पर सिर रखकर रोने लगी। उस महिला का सिर्फ यही कहना था कि बिंदुखत्ता में आदर्श इंटर कॉलेज, जनता उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, हाट कालिका इंटर कालेज, चित्रकूट उच्चतर माध्यमिक स्कूल, दानू मांटेसरी स्कूल, मानवता उच्चतर माध्यमिक स्कूल को अनुदान नहीं मिल रहा है। उसने बताया कि पिछले 13 साल से पांच हजार रुपए के मानदेय पर हाट कालिका इंटर कॉलेज में काम कर रही हैं।

उसने ये भी बताया कि वन विभाग के पेच के कारण सरकारी ग्रांट नहीं मिल पा रही है, जबकि अन्य कई भवन बने और वन विभाग का पेच हट गया। कहा कि स्थानीय विधायक एवं श्रम मंत्री हरीश दुर्गापाल तो वोट मांगने के समय हाथ जोड़कर दिखते हैं। उमा काफी देर तक सीएम रावत के पांव पकड़े रहीं। जिसके बाद महिला को हटाने के लिए महिला पुलिस कर्मियों ने काफी प्रयास किया लेकिन असफल रहीं। जिसके बाद सभी अधिकारियों की पेशानी बढ़ गयी है। जिसके बाद सीएम ने महिला को इससे निजात दिलाने का आश्वासन दिए।

महिला पुलिसमुख्यमंत्री हरीश रावतमदद की गुहार

एक टिप्पणी भेजें

[blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget