पाकिस्तान को ये झटका लगेगा जोर का, भारत-रूस के बीच हुए 16 अहम समझौते

पणजी: गोवा में ब्रिक्स समिट से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमिर पुतिन के बीच मुलाकात हुई। इस मुलाकात के बाद दोनों देशों के बीच 16 अहम समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए हैं। जैसा कि मुलाकात से पहले ही माना जा रहा था कि रक्षा मामले को लेकर दोनों देशों के बीच अहम करार होंगे। ठीक वैसे ही समझौतों से रक्षा क्षेत्र में भारत और रूस के बीच नया आयाम स्थापित होगा। इस समझौते में सबसे अहम जो है वो ये कि भारत को कोमोव मिलिट्री हेलीकॉप्टर मिलेंगे जो कि आर्मी के बेड़े में शामिल होंगे। साथ ही एस-400 सिस्टम भी रूस भारत को देगा। भारत और दोनों देशों के बीच गैस पाइपलाइन पर स्टडी, न्यूक्लियर एनर्जी, आंध्र प्रदेश और हरियाणा में स्मार्ट सिटी, शिक्षा, रेल की स्पीड बढ़ाने समेत कई क्षेत्रों में अहम समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए हैं।आसमानी ताकत होगी मजबूतदोनों देशों के बीच हुए इन समझौतों में एयर डिफेंस समझौते पर भी हस्ताक्षर हुए हैं। एयर डिफेंस सिस्टम एस-400 ट्राइअम्फ लंबी रेंज की क्षमता वाले होते हैं। इन मिसाइलों में अपनी तरफ आ रहे दुश्मन के विमानों, मिसाइलों और यहां तक कि ड्रोनों को 400 किलोमीटर तक के दायरे में मार गिराने की क्षमता होती है।मेक इन इंडिया में रूस की भागीदारीइस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि भारत और रूस आपसी सहयोग को नए युग में ले जाने पर सहमत हुए हैं। दोनों देश जहां रक्षा और सुरक्षा के क्षेत्र में मिलकर काम करेंगे वहीं रूस भारत को मेक इन इंडिया में मदद करने पर सहमत हुआ है। भारत-रूस के संबंधों का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि रूस भारत का पुराना सहयोगी है और एक पुराना दोस्त दो नए दोस्तों से बेहतर होता है. भारत इस महत्व को जानता है।इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि रूस और भारत अब साथ मिलकर आतंकवाद का मुकाबला करेंगे। पीएम मोदी ने कहा कि भारत और रूस ब्रिक्स समेत तमाम मंचों पर मिलकर काम कर रहे हैं और तमाम वैश्विक मंचों पर वैश्विक मसलों के समाधान के लिए मिलजुलकर काम करेंगे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

2 दो और 4 चार लाइन शायरी Do Or Chaar Line Touching Shayari

हीर-रांझा के प्यार की कहानी- Love story of heer ranjha part-2