मनवा गदगद हो गया ,आज मिटी है झेंप, मियां मुबारकबाद लो , यह थी पहली खेप ||

मनवा  गदगद हो गया , आज मिटी है झेंप |
मियां मुबारकबाद लो , यह थी पहली खेप ||

#आतंकी38ढेर

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

2 दो और 4 चार लाइन शायरी Do Or Chaar Line Touching Shayari

हीर-रांझा के प्यार की कहानी- Love story of heer ranjha part-2