शेष दुनिया के साथ ही भारत को मिल सकता है 5G




भारत को शेष दुनिया के साथ 5जी मिलने की संभावना है। दूरसंचार सचिव जे.एस. दीपक ने कहा कि हम इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आई ओ टी) में प्रवेश कर रहे हैं, ऐसे में इस बात की संभावना है कि देश को 5जी शेष दुनिया के साथ मिले।

दीपक ने कहा, ‘‘हमें 2जी शेष दुनिया से 25 वर्ष बाद मिला, कम से कम विकसित दुनिया से। इसी तरह हमें 3जी उस समय मिला जबकि 1 दशक पहले यह अमरीका और यूरोप पहुंच चुका है। इसी तरह 4जी उसे वैश्विक रूप से पेश किए जाने के 5 वर्ष बाद भारत में पहुंचा लेकिन 5जी के मामले में ऐसी संभावना है कि यह हमें शेष दुनिया के साथ ही मिलेगा।’’

इससे हमें पहले से चल रहे अंतर को पाटने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि आई.ओ.टी. से अगले 5-6 वर्ष में कनैक्टिड

उपकरणों की संख्या 50 अरब हो जाएगी। इससे भारत को कम से कम 15 अरब डॉलर के कारोबारी अवसर मिलेंगे।

एक टिप्पणी भेजें

[blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget