आसाराम बापू की जमानत याचिका नौवीं बार खारिज



09 Aug. 14:50

राजस्थान हाई कोर्ट ने मंगलवार को आसाराम बापू की जमानत याचिका खारिज कर दी। आसाराम पर एक नाबालिग लड़की के रेप का आरोप है। आसाराम की ये नौवीं जमानत याचिका है जिसे अदालत ने खारिज कर दिया है। पिछले महीने ही हाई कोर्ट ने उनकी अंतरिम जमानत याचिका अस्वीकार कर दी थी। आसाराम की जमानत याचिका रद्द करते हुए जस्टिस निर्मल जीत कौर ने कहा कि मामले की जांच अंतिम चरण में है इसलिए उन्हें जमानत देना ठीक नहीं होगा।

सरकारी वकील पीसी सोलंकी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि अदालत ने आसाराम के वकील की ये दलील भी खारिज कर दी कि मामले की सुनवाई में काफी ज्यादा वक्त लग रहा है। एक 16 वर्षीय लड़की ने आसाराम पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की रहने वाली लड़की के अनुसार राजस्थान के जोधपुर के निकट स्थित मनाई गांव आश्रम में ये घटना हुई। लड़की आश्रम की छात्र थी।

लड़की की शिकायत के बाद जोधपुर पुलिस ने आसाराम को 31 अगस्त 213 को गिरफ्तार कर लिया था। उसी समय से आसाराम जेल में है। आसाराम ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को गलत बताया है। उसका कहना है कि वो पीड़ित लड़की को अपनी बेटी की तरह मानता है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

2 दो और 4 चार लाइन शायरी Do Or Chaar Line Touching Shayari

हीर-रांझा के प्यार की कहानी- Love story of heer ranjha part-2