चाह हैं अधिक दौलत पाने की, तो बुधवार को करें ये काम



09 Aug. 13:55

धर्म : सर्वप्रथम पूज्य गणेशजी की पूजा तो हर दिन हर घर में की जाती है, लेकिन बुधवार के दिन इनकी पूजा का अलग ही महत्व है। इस दिन सच्चे मन से गणेश की पूजा की जाए तो आपकी हर मनेकामना पूर्ण होगी।

शिव-पार्वती के पुत्र गणेश जी को हम कई नामें से जानते है जैसे कि सुमुख, एकदंत, लंबोदर, विकट, विघ्ननाशन, विनायक, धूमकेतु, गजानन है। जिन्हें हम कष्टों को हरनें वाला मानते है।

गणेश जी अपनें भक्तों से बड़ी जल्दी प्रसन्न होते है और उनकी इच्छाओं की पूर्ति भी करतें है। अगर आप बुध ग्रह अशुभ स्थिति में है जिसके कारण आपको कई समस्याओं का सामना करना पड रहा है तो इस दिन गणेश जी की पूजा अवश्य करें।

अगर आपकी कुंडली में बुध ग्रह का दोष है तो बुधवार को गणेश जी पूजा करनें बुध ग्रह के दोष समाप्त हो जाएगे। जानिए बुधबार को गणेश जी को प्रसन्न करनें के उपाय जिससे आपके घर में सुख-समृद्धि बनी रहें।

बुधवार के दिन सुबह स्नान कर गणेशजी के मंदिर उन्हें दूर्वा की 11 या 21 गांठ अर्पित करें। ऐसा करनें से आपको जल्द ही शुभ फल मिलेगे।

हिन्दू धर्म में गाय को अपनी माता के समान माना जाता है। उनकी सेवा करनें से आपको सिख-शान्ति की प्राप्ति होती है। इसके लिए बुधवार के दिन गाय को हरी घास खिलाएं। जिससे कि सभी देवी-देवताओं की कृपा आप पर बनी रहेगी।

गणेशजी को सिंदूर चढ़ाएं। हनुमानजी के साथ ही गणेशजी का श्रृंगार भी सिंदूर के किया जाता है। इसीलिए गणेशजी को सिंदूर चढ़ाने से सभी परेशानियां दूर होती हैं।

अगर आप के बुध ग्रह खराब है तो इसके लिए बुधवार के दिन किसी गरीब या किसी मंदिर में जाकर हरे मूंग का दान करे इससे आपका बुध ग्रह का दोष शान्त हो जाएगा।

सुख-समृद्धि के लिए किसी पंदित या ज्योतिषी के अनुसार अपने हाथ की सबसे छोटी उंगली में पन्ना रत्न धारण करें।

श्री गणेश को मोदक बहुत पसंद है इसलिए इसका भोग उन्हे लगाएं। इससे बुध ग्रह के दोष दूर हो जाएगे।

बुधवार के दिन गणेश जी को सिंदूर चढाए इससे आपकी सभी मनेकामनाए जल्द ही पूर्ण होगी। सिंदूर चढातें समय विशेष मंत्र को भी पढ़ें,क्योकि वैसे तो हर देवी-देवता पर सिंदूर चढाया जाता है, लेकिन शिव परिवार या शिव के सभी अंश अवतारों पर सिंदूर चढ़ाने का एक अलग ही महत्व है। इसलिए हर बुधवार को इस मंत्र के साथ गणेशजी को सिंदूर चढ़ाना चाहिए।

मंत्र-

सिन्दूरं शोभनं रक्तं सौभाग्यं सुखवर्धनम्।

शुभदं कामदं चैव सिन्दूरं प्रतिगृह्यताम्।।

बुधवार को गणेश जी को शमी के पत्ते चढ़ाने पर बुद्धि तेज होती है साथ ही सभी क्लेशों का नाश और मानसिक शांति मिलती है। शमी के पत्ते चढातें समय इस मंत्र का जाप करें जिससे कि गणेश जी जल्द प्रसन्न होगा।

त्वत्प्रियाणि सुपुष्पाणि कोमलानि शुभानि वै।

शमी दलानि हेरम्ब गृहाण गणनायक।।

एक टिप्पणी भेजें

[blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget