पीएम मोदी ने 5000 स्पेशल जवानों को भेजा कश्मीर, कहा – आतंकियों को घर में घुसकर मारो

 



आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद से कश्‍मीर में हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। कश्‍मीर के हालात को काबू में करने के लिए बुधवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह घाटी जाएंगे, वहीं इससे पहले घाटी में 12 साल बाद बीएसएफ जवानों की तैनाती कर दी गई है। यहां बीएसएफ के 2600 जवानों की तैनाती की गई है। अभी तीन हजार जवान और तैनात किए जाएंगे।

राजनाथ सिंह भी जाएंगे कश्मीर

राजनाथ सिंह कश्‍मीर के लिए बुधवार को दिल्‍ली से रवाना होंगे। उनका यह कश्‍मीर दौरा दो दिनों का होगा। बताया जाता है कि राजनाथ वहां जाकर प्रशासनिक अधिकारियों और राजनेताओं से कश्‍मीर में उपजी हिंसा को लेकर बातचीत करेंगे। बीएसएफ का मुख्‍य काम एलओसी और अंतराष्‍ट्रीय सीमाओं की रक्षा करना है। इसकी कार्रवाई बेहद तेज होती है। इस बारे में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि बीएसएफ को लाल चौक पर तैनात किया जाएगा। श्रीनगर के अन्य अहम इलाकों में भी विद्रोहियों को काबू करने में बीएसएफ मदद करेगी।

इससे पहले साल 1991 से 2004 तक आतंकवाद रोधी अभियान के तहत कश्‍मीर में बीएसएफ तैनात की गई थी। स्थानीय लोगों के मन में बीएसएफ की छवि एक आक्रामक और क्रूर बल की है। बीएसएफ की तैनाती गृहमंत्री राजनाथ के कश्‍मीर दौरे के ठीक एक दिन पहले हुई है। बुधवार को गृहमंत्री राजनाथ दो दिन के लिए घाटी जाएंगे। राजनाथ सिंह वहां जाकर प्रशासनिक अधिकारियों और राजनेताओं से कश्‍मीर में उपजी हिंसा को लेकर बातचीत करेंगे।

 

एक टिप्पणी भेजें

[blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget