अडल्‍ट स्‍टार को हर घंटे करना पड़ता है ये काम, कुछ ऐसी है दिनचर्या



पोर्न इंडस्‍ट्री की अपनी एक अलग दुनिया है। यहां भी काम और पॉपुलैरिटी के हिसाब से पोर्नस्‍टार की पहचान बनती है। हालांकि यह इतना आसान नहीं होता। अडल्‍ट फिल्‍मों की शूटिंग के लिए पोर्नस्‍टार को कुछ नियम और कानून का पालन करना पड़ता है। तो आइए आज जानते हैं इस अडल्‍ट स्‍टार की कैसी होती हैं जिंदगी और इन्‍हें क्‍या-क्‍या करना पड़ता है।

यहां वक्‍त बड़ा है कीमती
अडल्‍ट फिल्‍मों की दुनिया में समय बहुत कीमती होता है। यहां हर घंटे का काम निर्धारित होता है। एक गर्ल पोर्नस्‍टार को सुबह 9 बजे उठना पड़ता है। और घर से तैयार होकर 11 बजे तक शूटिंग स्‍थल तक पहुंचना होता है। वहां पहुंचते ही कागजी कार्रवई के बाद 1 घंटे तक हेयर और मेकअप में टाइम लग जाता है। 12 बजते ही यह गर्ल अडल्‍ट स्‍टार अकेले शूटिंग करती है जिसमें वह कैमरे के सामने अपना अंग प्रदर्शन करती है। यह शूटिंग तकरीबन एक घंटे तक चलती है। तब कहीं दोपहर के एक बजे मेल अडल्‍ट स्‍टार शूटिंग स्‍थल पर पहुंच जाता है। फिर 2 से 4 बजे तक सेक्‍स वीडियो शूट किया जाता है और 5 बजते ही जब दोनों अडल्‍ट स्‍टार चरम स्‍थिति पर पहुंच जाते हैं तो वीडियो पूरा हो जाता है। इसके बाद एक घंटे यानी 6 बजे तक न्‍यूड फोटो खिंचाने का सिलसिला चलता है। आखिर में सभी पोर्न स्‍टार अपने दिन की तनख्‍वाह लेकर घर को रवाना हो जाते हैं। 


फीमेल को मिलता है ज्‍यादा पैसा
पोर्न इंडस्‍ट्री में फीमेल एक्‍टर को मेल एक्‍टर से ज्‍यादा पैसा मिलता है। क्‍योंकि इन्‍हें ज्‍यादा देर तक काम करना पड़ता है। एक शूटिंग के लिए इन्‍हें 1000 डॉलर तक मिल जाते हैं जबकि मेल एक्‍टर को 600 डॉलर मिलते हैं।  

खुद पर कमांड रखना जरूरी
मेल एक्‍टर्स के लिए पोर्न क्‍िलप शूट करना आसान नहीं होता। इन्‍हें अपने जेनिटल पर कंट्रोल रखना पड़ता है और जैसा डॉयरेक्‍टर कहता है उसी हिसाब से काम करना पड़ता है। यही नहीं ऑर्गेज्‍म पर भी कंट्रोल रखना होता है। इसके अलावा फिजिकल फिटनेस और खुद को बीमारी से बचाना भी जरूरी होता है। इसके अलावा फीमेल एक्‍टर्स के लिए कई सीमांए होती हैं। जैसे कि वह अपने मन से किसी बाहरी से शारीरिक संबंध नहीं बना सकतीं। साथ ही एक हफ्ते में एक ही लड़के के साथ सेक्‍स करेंगी। क्‍योंकि अक्‍सर देखा जाता है कि पोर्न मूवीज में एक्‍स्‍ट्रा साइज वाले पेनिस के साथ सेक्‍स करना पड़ता है ऐसे में उनके गुप्‍तांगों को रिकवर होने में कुछ दिन लग जाते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

[blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget