हुमन ट्रैफिकिंग के नये बिल पर बाल आयोग का वर्कशॉप

*हुमन ट्रैफिकिंग के नये बिल पर बाल आयोग का वर्कशॉप*

भोपाल: भारत सरकार द्वारा हुमन ट्रैफिकिंग बिल 2016 पर ड्राफ्ट तैयार किया जा रहा है, जिस पर भारत सरकार के महिला बाल विकास मंत्रालय की और से मप्र बाल अधिकार सरंक्षण आयोग द्वारा चाइल्ड ट्रैफिकिंग संबधी प्रस्तावित प्रावधानों पर चर्चा एवं सुझाव हेतु एक वर्कशॉप का आयोजन होटल पलाश में किया गया ।

वर्कशॉप में बाल आयोग के अध्यक्ष डॉ. राघवेंद्र शर्मा, एक्स डी जी पी एस के राऊत, एन के त्रिपाठी, एम पी पी एस सी के पूर्व अध्यक्ष अशोक पांडे,डी आई जी रमन सिकरवार, बाल आयोग की पूर्व अध्यक्ष उषा चुतर्वेदी, प्रोफेसर विश्वास चौहान, एडवोकेट प्रमोद सक्सेना सहित कई गणमान्य लोग शामिल हुए है।

वर्कशॉप में विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञो  ने 1956 के एक्ट और 2016 में बन रहे नए एक्ट पर अपने विचार रखे।
भारत सरकार द्वारा इस एक्ट में आवश्यक संशोधन हेतु 30 जून तक सुझाव मांगे है जिस पर आज इस वर्कशॉप में आम राय में इस एक्ट को काफी कमजोर मानते हुए इसे अधिक मजबूत बनाने के लिए कई अहम सुझाव दिए गए। इन अहम् बिन्दुओं पर चर्चा के बाद विशेषज्ञों ने अपने सुझाव रखे। इन सुझावों को बाल आयोग द्वारा भारत सरकार के महिला बाल विकास विभाग को भेजा जायेगा।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

2 दो और 4 चार लाइन शायरी Do Or Chaar Line Touching Shayari

हीर-रांझा के प्यार की कहानी- Love story of heer ranjha part-2