संदेश

October, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

जानिये कितने बजे दिखेगा करवाचौथ का चाँद आपके शहर में

चित्र
करवाचैथ स्पेशल:-
सबसे पहले चॉद का दीदार भोलेनाथ की नगरी वाराणसी मे होगा....
अन्य शहरो की समय-सारिणी निम्नवत रहेगी....
अम्रितसर:- 8:28 pm
अजमेर :- 8:39 pm
अम्बाला :- 8:25 pm
अहमदाबाद :- 8:52 pm
इलाहाबाद :- 8:12 pm
उदय पुर :-8:45 pm
करनाल :- 8:24 pm
कानपुर :- 8:17 pm
कुरूछेत्र :- 8:25 pm
कोलकाता :- 8:49 pm
गाजियाबाद :- 8:24 pm
ग्वालियर :- 8:25 pm
गुडगॉव :- 8:27 pm
चंडीगढ. :- 8:22 pm
चैन्नई :- 8:37 pm
जयपुर :- 8:34 pm
जम्मू :- 8:26 pm
जालंधर :- 8:28 pm
जोधपुर :- 8:46 pm
दिल्ली :- 8:25 pm
देहरादून :- 8:20 pm
पटियाला :-8:26 pm
पंचकुला :- 8:22 pm
पानीपत :- 8:26 pm
पटना :- 8:58 pm
फरीदाबाद :- 8:26 pm
मेरठ :- 8:23 pm
मुम्बई :- 8:58 pm
रोहतक :- 8:24 pm
लुधियाना :- 8:26 pm
लखनऊ :- 8:13 pm
वाराणसी :- 8:08 pm
शिमला :- 8:21 pm
हिसार :- 8:31 pm
सोनीपत :- 8:26 pm
......धन्यवाद........

करवा चौथ का पूजन करने वाली सुहागिन महिलाओं के लिए सांध्यकालीन पूजन का समय karva chauth 2015 pujan muhurt

चित्र
करवा चौथ स्पेशल
ऐ चाँद तूम आज जल्दी ही आ जानाकी तेरे इन्तेजार में मेरा चाँद बुझा सा है...रोहित बंसल9993475129शिवपुरी
चतुर्थी तिथि प्रारम्भ = 30/अक्टूबर/2015 को 08:24 बजे चतुर्थी तिथि समाप्त = 31/अक्टूबर/2015 को 06:25 बजे तक।
सोलह श्रृंगार से सजी-धजी सुहागिनें करवा चौथ पर चांद की आभा लिए होंगी।
इन्हें आज अपने-अपने 'चांद' का बेसब्री से इंतजार रहेगा।
इसलिए नहीं कि वे आज निर्जल हैं बल्कि इसलिए कि चंद्रदेव के दर्शन कर व अर्घ्य देकर अपने पति यानी चांद के दीर्घायु जीवन की कामना कर अखंड सौभाग्य का वर प्राप्त करना है।

करवा चतुर्थी चंद्रोदय व्यापिनी है। रात 8 बज कर 26 मिनट पर चंद्रमा का उदय होगा। व्रतधारी सौभाग्यवती महिलाएं चंद्र दर्शन पश्चात अर्घ्य देकर पति के हाथों से जल ग्रहण कर उपवास को पूर्णता प्रदान करेंगी। करवा चौथ का पूजन करने वाली सुहागिन महिलाओं के लिए सांध्यकालीन पूजन का समय = 17:33 से 18:52 अवधि = 1 घण्टा 18 मिनट मान्यता के अनुसार करवा चतुर्थी पर चांद को प्रत्यक्ष नहीं देखना चाहिए। वरन्‌ प्रतिबिंब का दर्शन कर व्रत खोलना चाहिए ।करवा चौथ के चार दिन बाद पुत्रों की दीर्घ आयु और सम…

Karwachoth special 2015

चित्र
करवाचौथ तो बहाना है,
असली मकसद तो पति को याद दिलाना है...
कि कोई है,
जो उसके इंतजार में दरवाजे पर
टकटकी लगाए रहती है,
पति के इंतज़ार में.
सदा आँखें बिछाए रहती है...
वैलेंटाईन ड़े, रोज़ ड़े
इन सब को वो समझ नहीं पाती है....
प्यार करती है दिल की गहराईयों से,
पर कह नहीं पाती है....
सुबह से भूखी है,
उसका गला भी सूखा जाता है....
इस पर उसका कोई ज़ोर नहीं,
उसे प्यार जताने का
बस यही तरीका आता है....
खुलेआम किस करना हमारी संस्कुति में नहीं,
'आई लव यू' कहने में वो शर्माती है....
वो चाहती है बहुत कुछ कहना,
पर 'जल्दी घर आ जाना'
बस यही कह पाती है....
फेसबुक, ट्वीटर से मतलब नहीं उसे,
ना फोन पे वाट्सैप चलाना आता है....
यूँ तो कोई जिद नहीं करती,
पर प्यार से रूठ जाना आता है...
यूँ तो दिल मचलता है हमारा भी,
देख कर हुस्न की बहार...
मन करता है कि कोई गर्लफ्रेंड बनाऊँ,
पर याद आ जाता है उसका समर्पण,
और हमारे परिवार पर लुटाया हुआ प्यार....
ऐसी प्रिया को,
है सम्मान का, प्यार का अधिकार |।।

बचपन बाली दिवाली diwali 2015 happy ddeepawali

चित्र
बचपन बाली दिवाली .....हफ्तों पहले से साफ़-सफाई में जुट जाते हैं
चूने के कनिस्तर में थोड़ी नील मिलाते हैं
अलमारी खिसका खोयी चीज़ वापस  पाते हैं
दोछत्ती का कबाड़ बेच कुछ पैसे कमाते हैं
चलो इस दफ़े दिवाली घर पे मनाते हैं  ....दौड़-भाग के घर का हर सामान लाते हैं
चवन्नी -अठन्नी  पटाखों के लिए बचाते हैं
सजी बाज़ार की रौनक देखने जाते हैं
सिर्फ दाम पूछने के लिए चीजों को उठाते हैं
चलो इस दफ़े दिवाली घर पे मनाते हैं ....बिजली की झालर छत से लटकाते हैं
कुछ में मास्टर  बल्ब भी  लगाते हैं
टेस्टर लिए पूरे इलेक्ट्रीशियन बन जाते हैं
दो-चार बिजली के झटके भी  खाते हैं
चलो इस दफ़े दिवाली घर पे मनाते हैं ....दूर थोक की दुकान से पटाखे लाते है
मुर्गा ब्रांड हर पैकेट में खोजते जाते है
दो दिन तक उन्हें छत की धूप में सुखाते हैं
बार-बार बस गिनते जाते है
चलो इस दफ़े दिवाली घर पे मनाते हैं ....धनतेरस के दिन कटोरदान लाते है
छत के जंगले से कंडील लटकाते हैं
मिठाई के ऊपर लगे काजू-बादाम खाते हैं
प्रसाद की  थाली   पड़ोस में  देने जाते हैं
चलो इस दफ़े दिवाली घर पे मनाते हैं ....माँ से खील में से  धान बिनवाते हैं
खांड  के खिलोने …

JOIN ACITYLIVE.COM ON WHATSAPP

चित्र

विनोद खन्ना(स्वामी विनोद भारती)द्वारा मा अमृत साधना को दिये गए साक्षात्कार की कड़ी।।।Vinod khanna on osho

चित्र
विनोद खन्ना(स्वामी विनोद भारती)द्वारा मा अमृत साधना को दिये गए साक्षात्कार की कड़ी।।।
दिसंबर 1975 में एकदम मैंने तय किया कि मुझे ओशो के पास जाना है। मैं दर्शन में गया। ओशो ने मेरे से पूछा: क्‍या तुम संन्‍यास के लिए तैयार हो? मैंने कहा: मुझे पता नहीं। लेकिन आपके प्रवचन मुझे बहुत अच्‍छे लगते है। ओशो ने कहा तुम संन्‍यास ले लो। तुम तैयार हो। बस, मैंने संन्‍यास ले लिया।उन्‍होंने आपकी कोई पूछताछ नहीं की कौन हो,कहां से हो?नहीं कुछ नहीं, विनोद ने कहा,यूं लगा कि मैं इन्‍हें अच्‍छी तरह जानता हूं। कई जन्‍मों से हमारी पहचान है। उन्‍हें देखकर मुझे लार्जार दैन लाइफ का अहसास हुआ। और मैं ठीक जगह आ गया हूं—अपने घर।इतना बोल कर विनोद होम कमिंग की भाव दशा को पुन: याद कर उसमें खो गये। कमरे में सधन चुप्‍पी उतर आई। सद्गुरू की बातें करने बैठो तो और क्‍या होगा। जुवा लड़खडाएगी नही? बहार पेड़ पर पक्षी बोल रहे थे, इस चुप्‍पी को पैना करने के लिए।ओशो ने मुझे नाद ब्रह्म ध्‍यान करने के लिए कहा, विनोद जी स्‍मृतियों के खजानें को खोलते हुए बोले: अब मुझे लगता है कि शायद उस वक्‍त में बहुत सक्रिय था। मेरे अंदर शारीरिक ऊर्जा…

Intex ने लॉन्च किया 3GB रैम का सबसे सस्ता स्मार्टफोन,कीमत 8888 रु.

चित्र
गैजेट डेस्क: इंटेक्स (Intex) ने भारत में अपना नया स्मार्टफोन क्लाउड स्विफ्ट (Cloud Swift) लॉन्च कर दिया है। ये 4G (LTE) स्मार्टफोन है, जिसकी कीमत 8,888 रुपए तय की गई है। यूजर्स इस ई-कॉमर्स साइट स्नैपडील से खरीद सकते हैं। कंपनी ने इसकी प्री-बुकिंग शुरू कर दी है। वहीं, सेल मंगलवार, 20 अक्टूबर से की जाएगी। इस स्मार्टफोन को शैंपेन और ग्रे कलर वेरिएंट में लॉन्च किया गया है।Intex Cloud Swift में क्या खास :
> मीडियाटेक प्रोसेसर
> 3GB रैम
> 16GB मेमोरी
> 8 मेगापिक्सल कैमराIntex Cloud Swift के फीचर्स :इंटेक्स का ये डुअल सिम स्मार्टफोन है, जो एंड्रॉइड के वर्जन 5.1 लॉलीपॉप ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करता है। इसमें 5 इंच IPS स्क्रीन दी गई है, जो HD (720x1280 पिक्सल रेजोल्यूशन) डिस्प्ले क्वालिटी को सपोर्ट करती है। इस स्मार्टफोन में 1.3GHz क्वाड-कोर मीडियाटेक MT6735A प्रोसेसर दिया है। इसके साथ, इसमें 3GB रैम दी गई है। कंपनी का कहना है कि इस कीमत में इतनी ज्यादा रैम वाला स्मार्टफोन कोई दूसरी कंपनी नहीं दे रही है। इसकी इंटरनल मेमोरी 16GB है, जिसे माइक्रो SD कार्ड की मदद से 128GB तक और बढ़ाया जा स…

आखिर कौन है ओशो..!!! Who is osho?

चित्र
आखिर कौन है ओशो..!!!
🔥
1)संध्याकालीन सितारे का एकाकीपन या आकाशगंगा के पीछे छिपी रहस्यपूर्ण अथाहता| शायद अम्बर के धन-नील विस्तार में सिकुड़ी हुई चंद्रकला या प्रखर सूर्य जो शानदार गरिमा के साथ उगता है और हजारों किरणों में आकाश के टुकड़े कर देता है |
सप्तर्षियों की प्रज्ञा , अनंत का चिंतन | समाधि के अतल गहराइयों में उगता हुआ गतिशील मौन | उर्जा को हर्षोल्लास के साथ समेट कर उसे परात्पर की विराटता की ओर ले जाने वाले “ओशो” प्रत्येक के भीतर जीते है,जीये चले जाते है ,अनवरत्‌ |-प्रसिद्ध नृत्यांगना मल्लिका साराभाई🔥
2)"ओशो" अद्भुत रहस्यदर्शी है | वे इस युग के सम्बुद्ध प्रज्ञा पुरुष है |-महाकवी सुमित्रानंदन पंत🔥
3)
" ओशो " एक महान दार्शनिक और श्रेष्ठतम रहस्यदर्शी है | वे भारतीये प्रज्ञा और चिंतन के सशक्त संदेशवाहक है |-प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह🔥
4)गौतम बुद्ध के बाद समस्त मनुष्य जाति में ' ओशो " से बढ़कर कोइ और बुद्धि प्रमाण्यवादि एवम्‌ धर्मवेत्ता नहीं हुआ |-डॉ. भाऊसाहेब लोखंडे🔥
5)आदि शंकराचार्य के बाद ओशो जैसी प्रतिभा का कोई दूसरा व्यक्ति नहीं है | शायद सौ वर्ष के बा…