संदेश

August, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

तुम हिन्दू लोग मूर्ती की पूजा क्यों करते हो. Why hindus worship stone

चित्र
मूर्ती पूजा का रहस्य जरूर पढ़े :-कोई कहे की की हिन्दू मूर्ती पूजा क्यों
करते हैं तो उन्हें बता दें
मूर्ती पूजा का रहस्य :-स्वामी विवेकानंद को एक राजा ने
अपने भवन में बुलाया और बोला, “तुम हिन्दू लोग मूर्ती की पूजा करते हो!
मिट्टी, पीतल, पत्थर की मूर्ती का.! पर मैं ये सब नही मानता।
ये तो केवल एक पदार्थ है।”उस राजा के सिंहासन के पीछे
किसी आदमी की तस्वीर लगी थी। विवेकानंद जी कि नजर उस
तस्वीर पर पड़ी।विवेकानंद जी ने राजा से पूछा,
“राजा जी, ये तस्वीर किसकी है?”राजा बोला, “मेरे पिताजी की।”स्वामी जी बोले, “उस तस्वीर को अपने
हाथ में लीजिये।”राज तस्वीर को हाथ मे ले लेता है।स्वामी जी राजा से : “अब आप उस
तस्वीर पर थूकिए!”राजा : “ये आप क्या बोल रहे हैं
स्वामी जी.? “स्वामी जी : “मैंने कहा उस
तस्वीर पर थूकिए..!”राजा (क्रोध से) : “स्वामी जी, आप होश मे
तो हैं ना? मैं ये काम नही कर सकता।”स्वामी जी बोले, “क्यों? ये तस्वीर तो केवल
एक कागज का टुकड़ा है,
और जिस पर कूछ रंग लगा है।इसमे ना तो जान है, ना आवाज, ना तो ये सुन सकता है, और ना ही कूछ बोल सकता है।”और स्वामी जी बोलते गए, “इसमें ना ही हड्डी है औ…

परम पूज्य संत श्री भेरोदास जी सरकार आज पंचतत्व में विलीन bherodas maharaj panch tatb me bileen

चित्र
परम पूज्य संत श्री भेरोदास जी सरकार आज पंचतत्व में विलीन होकर ब्रह्मलीन हो गए ।। कल  सोमवार को 10 बजे स्थान खेरे वाले हनुमानजी पर उनकी अंतिम यात्रा रहेगी ।। गुरु की अंतिम यात्रा में शामिल होकर गुरु के अंतिम दर्शन करे ।। जय गुरुदेव जय बाबा भेरोदास  जी सरकार ।।
गुरु ने केवल अपना शरीर त्यागा है लेकिन उनकी कृपा छाया हम सभी पर बनी रहेगी ।।

WhatsApp पर डाला गांधीजी का आपत्तिजनक वीडियो, ग्रुप एडमिन गिरफ्तार WhatsApp admin arrested

चित्र
बिलासपुर (छत्तीसगढ़). छत्तीसगढ़ के रतनपुर में वॉट्सऐप से महात्मा गांधी पर आपत्तिजनक वीडियो जारी करने का मामला सामने आया है। वीडियो शेयर करने वाले ग्रुप एडमिन समेत दो लोगों को पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया।क्या है मामला
जानकारी के मुताबिक 21 साल का मनीष जायसवाल एक वॉट्सऐप ग्रुप ऑपरेट करता है। प्रदीप और आयुष भी इस ग्रुप में शामिल हैं। आयुष ने 26 अगस्त को महात्मा गांधी के खिलाफ एक आपत्तिजनक वीडियो डाला।
ग्रुप एडमिन के खिलाफ पहला मामला
प्रदीप को जब इस वीडियो के बारे में पता चला तो उसने पुलिस में इसकी शिकायत की। पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत मनीष व आयुष को गिरफ्तार कर लिया। प्रदेश में किसी ग्रुप एडमिन के खिलाफ एफआईआर का यह पहला मामला है।क्या होता है ग्रुप एडमिन
वॉट्सऐप ग्रुप पर संदिग्ध मैसेज वाले की पहचान ग्रुप एडमिन से की जाती है। जिस ग्रुप से मैसेज आता है, उससे पूछा जाता है कि मैसेज भेजने वाला कौन है? ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि ग्रुप एडमिन ही बाकी मेंबर्स को जोड़ता है।हो सकती है उम्रकैद
आईटी एक्ट-2008 के अनुसार, राष्ट्रद्रोह के मैसेज भेजने वाले को उम्रकैद भी हो सकती है। अश्लीलत म…

रक्षा बन्धन राखी बाँधने का मुहूर्त rakhi rakcha bandhan 2015

चित्र
रोहित बंसल, शिवपुरी
रक्षा बन्धन राखी बाँधने का मुहूर्त ,शनिवार,,29,,अगस्त को रक्षा बन्धन अनुष्ठान का समय = 13:50 से 20:58,, अवधि = 7 घण्टे 8 मिनट्स

श्रावण पूर्णिमा रक्षा बन्धन के लिये अपराह्न का मुहूर्त = 13:50 से 16:10 अवधि = 2 घण्टे 20 मिनट्स,,रक्षा बन्धन के लिये प्रदोष काल का मुहूर्त = 18:42 से 20:58,,,अवधि = 2 घण्टे 15 मिनट्स

भद्रा 28 अगस्त को रात 3.35 बजे से लग जायेगा और यह रक्षाबंधन पर्व यानी 29 अगस्त के दोपहर 1.40 बजे तक रहेगा। 9 घंटे 11 मिनट तक का है

भाई और बहन का लगाव एक अद्भुत प्रेम है। इस रिश्तें में एक-दूसरे के प्रति मन का, भावनाओं का, सेवा का, ममता का व सुरक्षा का समपर्ण है। लेकिन वासना की बू लेशमात्र भी नहीं है। इस अनमोल रिश्तें में अब मानसिक दरार दिखलाई पड़ने लगी है। 
’’भैया को दीन्ही महल अटारी, हमका दीया परदेश’’ शिक्षा दीप्ति स्त्रियों के ’’कान्ता-सम्मित उपदेशों’’ का असर इतना तो हुआ कि पैतृक सम्मपत्ति में लड़कियों को हिस्सा मिला। मगर इसका नतीजा यह है कि भाईयों के मन में बहनों की खातिर संशय बैठ गया। उन्हे लगने लगा कि यह माॅ-बाप की सेवा के नाम पर बहनें बार-2 मायके आने लगी …

"ओरछा धाम" - राम राज्य 'श्री राम सत्संग परिवार' orcha dham ram mandir

चित्र
"ओरछा धाम" - राम राज्य 
'श्री राम सत्संग परिवार'-झांसी से करीब 20 किमी दूर एक छोटा-सा गांव है ओरछा। बुंदेलखंड के इतिहास को समेटे यह गांव कई इतिहासकारों के लिए आज भी चर्चा का विषय है। यहां पर भगवान श्रीराम का एक मंदिर स्थित है, जो राम राजा मंदिर के नाम से जाना जाता है। मंदिर के बारे में बहुत-सी कहानियां मशहूर हैं। श्रीराम को राजा की तरह पूजा जाता है। मान्यता है कि राम ही यहां के राजा हैं। लोगों का मानना है कि राम राजा को ओरछा इतना पसंद है कि वह रात में अयोध्या में रुकते हैं और सुबह होते ही बालरूप में ओरछा आ जाते हैं।

मंदिर में राम राजा के अलावा सीता, लक्ष्मण और हनुमान की मूर्तियां भी स्थापित हैं। यहां का विशेष आकर्षण राम बारात है, जो दिसंबर महीने में होती है। राम राजा मंदिर के बार में कहा जाता है कि ओरछा के राजा मधुकर राधा-कृष्ण के परम भक्त थे, लेकिन उनकी पत्नी महारानी कमलापति गणेश कुंवरी भगवान राम की भक्त थीं। एक दिन महारानी भगवान राम की भक्ति में लीन थीं और महाराज उनका इंतजार कर रहे थे। काफी देर बाद भी उनका ध्यान राजा पर नहीं गया। इस पर महाराजा ने रानी से मजाक में…

क्या BF ब्लू फ़िल्म देखना पाप है? blue film

चित्र
क्या BF ब्लू फ़िल्म देखना पाप है?

पहले तो आप यह जान लें कि BF ( Blue Film) क्या होती है। किसी पुरुष का किसी स्त्री के साथ बिना वस्त्र पहने भिन्न भिन्न प्रकार से और भिन्न भिन्न तरीके से किये जाने वाले प्रजनन के तरीकों को करते हुए फिल्माए गए चलचित्र को BF कहते हैं ! BF देखना हमारे जीवन में बहुत महत्व रखता है। आजकल की इस भागदौड़ वाली जिंदगी में हर कोई
शारीरिक और मानसिक रूप से थक कर हताश हो जाता है
और अपने जीवन साथी से मुँह मोड़कर सो जाता है
और यहाँ तवे की तरह तपती स्त्री
अपनी इच्छा को मारकर सो जाती है। और इसी बात का फायेदा उठाकर
पड़ीसी गरम लोहे पर हथौड़ा मार देता है और फिर बन जाती है BF BF की सुप्रसिद्ध देवी 1008 श्री श्री सनी लिओन जी
द्वारा रचित शास्त्र ‘टांगो के बीच भरी मांग’ में
अध्याय 4 के पृष्ठ क्रमांक 61-62 खंड 6 के श्लोक 2 में लिखा ‘लिंगम होलम गालम गालम..
भोदि फाटम गत्हमी मुंडा मा आलम
गांड मा गालम पानी सोड्म तुचामी… अथार्त आत्मा और शरीर दोनों अलग अलग हैं
इसलिए इस जीवन को व्यर्थ न करते हुए
अपने शरीर का सदुपयोग कर
BF वीडियो बना कर लोगों का उद्धार कर लावा। हमेशा से लोगों में यह भावना रही…

आज नागपंचमी है।

चित्र
नाग पंचमी हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। हिन्दू पंचांग के अनुसार सावन माह की शुक्ल पक्ष के पंचमी को नाग पंचमी के रुप में मनाया जाता है। इस दिन नाग देवता या सर्प की पूजा की जाती है और उन्हें दूध पिलाया जाता है। नागपंचमी के ही दिन अनेकों गांव व कस्बों में कुस्ती का आयोजन होता है जिसमें आसपास के पहलवान भाग लेते हैं। गाय, बैल आदि पशुओं को इस दिन नदी, तालाब में ले जाकर नहलाया जाता है। संस्कृति हमारी संस्कृति ने पशु-पक्षी, वृक्ष-वनस्पति सबके साथ आत्मीय संबंध जोड़ने का प्रयत्न किया है। हमारे यहां गाय की पूजा होती है। कई बहनें कोकिला-व्रत करती हैं। कोयल के दर्शन हो अथवा उसका स्वर कान पर पड़े तब ही भोजन लेना, ऐसा यह व्रत है। हमारे यहाँ वृषभोत्सव के दिन बैल का पूजन किया जाता है। वट-सावित्री जैसे व्रत में बरगद की पूजा होती है, परन्तु नाग पंचमी जैसे दिन नाग का पूजन जब हम करते हैं, तब तो हमारी संस्कृति की विशिष्टता पराकाष्टा पर पहुंच जाती है। गाय, बैल, कोयल इत्यादि का पूजन करके उनके साथ आत्मीयता साधने का हम प्रयत्न करते हैं, क्योंकि वे उपयोगी हैं। लेकिन नाग हमारे किस उपयोग में आता है, उल्टे यद…

ओशो महारास शिविर शिवपुरी में। osho maharas shivir in shivpuri

चित्र
ओशो परिवार शिवपुरी Oshovaani.com

जीना मकसद है जिंदगी का 'रोहित' जीता रह।

चित्र
प्यार-मोहबत के  फरिश्तों का हमजबां होना
सब गुनाहो से बुरा है दिल मैं अरमां होना | अहसास की आँख से देखी हैं रूसवाइयां
महज़ इतफाक नहीं दिल का परेशां होना  | नजदीकयां भी बुरी होती हैं दूरियों की तरह
जरुरी है  कुछ फासिलों का दरम्यां होना  |गर गरूर है  उन्हें महलों  का तो रहने दो
मेरे  लिए काफी है  सर पे आसमां होना  | न जाने क्यों खुदा होना चाहते है लोग
काफी होता है  एक इंसां का इंसां होना  | जीना मकसद है  जिंदगी  का  'रोहित'  जीता रह
क्यों चाहता है अपने क़दमों के निशां होना |

कल एकादशी है और अभी सावन माह चल रहा है

चित्र
कल  एकादशी है और अभी सावन माह चल रहा है। ये योग पूजा आदि कर्मों के लिए बहुत ही शुभ है। सोमवार को शिवजी और एकादशी पर भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। सावन के सोमवार को एकादशी होने से शिवजी, विष्णुजी और माता लक्ष्मी की कृपा पाने का खास दिन रहेगा। इस दिन किए जाने वाले व्रत और उपाय से अक्षय पुण्य मिलता है, पाप नष्ट होते हैं, मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। हर माह दो एकादशियां आती हैं, शास्त्रों के अनुसार इन दोनों एकादशियों के लिए कुछ ऐसे काम बताए गए हैं जो नहीं करना चाहिए
 ये चीजें नहीं खाना चाहिए ।एकादशी पर व्रत करें या न करें, हमें उड़द की दाल, मसूर नहीं खाना चाहिए। किसी अन्य व्यक्ति द्वारा दी गई खाने की चीजें भी नहीं खाना चाहिए, बल्कि दूसरों को खाना खिलाना चाहिए। इस दिन एक ही बार भोजन करना चाहिए। एकादशी पर व्रत करेंगे तो इससे स्वास्थ्य को भी लाभ मिलता है। महीने में दो दिन हमारे पाचन तंत्र को भी आराम मिलता है। खान-पान में संयम रखने से मोटापा, कब्ज आदि परेशानियों में भी लाभ मिलता है। व्रत में दूध और फल का सेवन करना चाहिए।
घर में लड़ाई-झगड़े ना करें ।पति-पत्नी इस बात का विशेष ध्यान रखें कि एका…