संदेश

April, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

किसकी मृत्यु कब और कैसे होगी? how- when you will die?

चित्र
Related keywords- types of insuranceinsurance definitionlife insurancetravel insuranceinsurance meaningaviva insuranceprinciples of insuranceinsurance in india


किसकी मृत्यु कब और कैसे होगी?


दोस्तों,     मृत्यु एक अटल सत्य हैं .। आज की विशेष पोस्ट अवश्य पढिये । आजतक हम सिर्फ अनावश्यक पोस्ट करते रहे पर एक एक पल हम मृत्यु की और आगे बढ़ रहे हैं । क्या होगी,कैसे होगी ,कब होगी ,क्या करना होगा ये सब आपको समझाते हैं ।हिन्दू धर्मशास्त्रों में न केवल जीवन के रहते अच्छे या बुरे कर्मों को सुख और दु:ख की वजह बताया गया है, बल्कि इन सद्कर्मों व दुष्कर्मों को सुखद व दु:खद मृत्यु नियत करने वाला भी बताया गया है। इसे दूसरे शब्दों में सद्गति व दुर्गति भी कहा जाता है। क्यूंकि मृत्यु अटल सत्य है, इसलिए हर ग्रंथ में हमेशा अच्छे गुण, विचार व आचरण को अपनाने की सीख दी गई है।खासतौर पर अक्सर कई लोगों की ऐसी प्रवृत्ति उजागर होती है कि वे ज़िंदगी को अच्छे कामों से संवारने की कोशिशों से बचते रहते हैं, किंतु मृत्यु को सुधारने की गहरी चाहत रखते हैं। मृत्यु से जुड़े कई रहस्य हिंदू धर्मशास्त्र गरुड़ पुराण में उजागर हैं। इ…

आज 29 अप्रैल 2015 को एकादशी है।

चित्र
आज 29 अप्रैल 2015 को एकादशी है।आज क्या करे क्या न करें ।भोग विलास से भी दूर रहें । प्रात: एकादशी को लकड़ी का दातुन तथा पेस्ट का उपयोग न करें; नींबू, जामुन या आम के पत्ते लेकर चबा लें और उँगली से कंठ शुद्ध कर लें । वृक्ष से पत्ता तोड़ना भी वर्जित है, अत: स्वयं गिरे हुए पत्ते का सेवन करे । यदि यह सम्भव न हो तो पानी से बारह कुल्ले कर लें । फिर स्नानादि कर मंदिर में जाकर गीता पाठ करें या पुरोहितादि से श्रवण करें । प्रभु के सामने इस प्रकार प्रण करना चाहिए कि: ‘आज मैं चोर, पाखण्डी और दुराचारी मनुष्य से बात नहीं करुँगा और न ही किसीका दिल दुखाऊँगा । गौ, ब्राह्मण आदि को फलाहार व अन्नादि देकर प्रसन्न करुँगा । रात्रि को जागरण कर कीर्तन करुँगा , ‘ॐ नमो भगवते वासुदेवाय’ इस द्वादश अक्षर मंत्र अथवा गुरुमंत्र का जाप करुँगा, राम, कृष्ण , नारायण इत्यादि विष्णुसहस्रनाम को कण्ठ का भूषण बनाऊँगा ।’ - ऐसी प्रतिज्ञा करके श्रीविष्णु भगवान का स्मरण कर प्रार्थना करें कि : ‘हे त्रिलोकपति ! मेरी लाज आपके हाथ है, अत: मुझे इस प्रण को पूरा करने की शक्ति प्रदान करें ।’ मौन, जप, शास्त्र पठन , कीर्तन, रात्रि जागरण एकादशी…

इसलिए आसाराम का केस लड़ रहा हूं मैं: सुब्रमण्यम स्वामी

चित्र
...इसलिए आसाराम का केस लड़ रहा हूं मैं: सुब्रमण्यम स्वामी पिछले साल आम चुनावों से ठीक पहले अपनी जनता पार्टी का विलय बीजेपी में करने के बाद से भगवा राजनीति का प्रमुख चेहरा बने सुब्रमण्यम स्वामी अपनी खास स्टाइल ऑफ पॉलीटिक्स के लिए जाने जाते हैं। वे देश के सबसे शक्तिशाली कहे जाने वाले गांधी परिवार के खिलाफ बेखौफ होकर मुहिम चलाते हैं, अल्पसंख्यकों को लेकर अपने कट्टर विचारों के सार्वजनिक इजहार से हिचकते नहीं हैं और ज्वलंत मुद्दों पर पार्टी लाइन की तरफ से भी बेपरवाह नजर आते हैं। स्वामी हाल में चर्चा में आए नाबालिग से बलात्कार के आरोपी संत आसाराम से मिलने जेल जाने की वजह से। उन्होंने आसाराम का केस लड़ने का ऐलान किया है। आईबीएनखबर ने उनसे इस ऐलान की वजह सहित विभिन्न मुद्दे पर विस्तार से बात की। मूल बात ये है कि मुझे पता लगा कि आसाराम जिनके दुनियाभर में भक्त हैं, वो 18 महीने से जमानत के बिना जेल में हैं। फिर मैंने पता किया कि उनपर क्या आरोप हैं तो पता चला कि एक लड़की ने आरोप लगाया था कि मेरे साथ दुर्व्यवहार हुआ। बलात्कार हुआ। मैंने जब छानबीन की तो लड़की के बयान के आधार पर जोधपुर में ये तथाकथित…

Arz kia Hai... Few Good One's

चित्र
Arz Hai... Few Good One's...---------------------------------------------------बहुत देखा जीवन में  समझदार बन कर
पर ख़ुशी हमेशा  पागलपन से ही मिली है ।।-------------------------------------------------इसे इत्तेफाक समझोया दर्द भरी हकीकत,आँख जब भी नम हुई,वजह कोई अपना ही था------------------------------------------------"हमने अपने नसिब से ज्यादाअपने दोस्तो पर भरोसा रखा है."क्यु की नसिब तो बहुत बारबदला है".लेकिन मेरे दोस्त अभी भी वही है".----------------------------------------------उम्रकैद की तरह होते हैं कुछ रिश्ते , जहाँ जमानत देकर भी रिहाई मुमकिन नहीं...------------------------------------------------दर्द को दर्द से न देखो,दर्द को भी दर्द होता है,दर्द को ज़रूरत है दोस्त की,आखिर दोस्त ही दर्द में हमदर्द होता है...------------------------------------------------ज़ख़्म दे कर ना पुछा करो,               दर्द की शिद्दत...!"दर्द तो दर्द" होता हैं,              थोड़ा क्या, ज्यादा क्या...!!------------------------------------------------"दिन…

शुक्लपक्ष में किस नाम की एकादशी होती है? उसका क्या फल होता है?

चित्र
मोहिनी एकादशी
युधिष्ठिर ने पूछा : जनार्दन ! वैशाख मास के शुक्लपक्ष में किस नाम की एकादशी होती है? उसका क्या फल होता है? उसके लिए कौन सी विधि है?

भगवान श्रीकृष्ण बोले : धर्मराज ! पूर्वकाल में परम बुद्धिमान श्रीरामचन्द्रजी ने महर्षि वशिष्ठजी से यही बात पूछी थी, जिसे आज तुम मुझसे पूछ रहे हो ।

श्रीराम ने कहा : भगवन् ! जो समस्त पापों का क्षय तथा सब प्रकार के दु:खों का निवारण करनेवाला, व्रतों में उत्तम व्रत हो, उसे मैं सुनना चाहता हूँ ।

वशिष्ठजी बोले : श्रीराम ! तुमने बहुत उत्तम बात पूछी है । मनुष्य तुम्हारा नाम लेने से ही सब पापों से शुद्ध हो जाता है । तथापि लोगों के हित की इच्छा से मैं पवित्रों में पवित्र उत्तम व्रत का वर्णन करुँगा । वैशाख मास के शुक्लपक्ष में जो एकादशी होती है, उसका नाम ‘मोहिनी’ है । वह सब पापों को हरनेवाली और उत्तम है । उसके व्रत के प्रभाव से मनुष्य मोहजाल तथा पातक समूह से छुटकारा पा जाते हैं ।

सरस्वती नदी के रमणीय तट पर भद्रावती नाम की सुन्दर नगरी है । वहाँ धृतिमान नामक राजा, जो चन्द्रवंश में उत्पन्न और सत्यप्रतिज्ञ थे, राज्य करते थे । उसी नगर में एक वैश्य रहता था, जो …

आप क्या करेंगे ????

चित्र
ईमानदार Doctors (यदि कोई हो तो) पे
नहीं है ये टिप्पणी..
कृपया वे अन्यथा न लें
और आहत न हों।


(सन्देश को उदाहरण के माध्यम से प्रस्तुत किया गया है क्रप्या अपने पर न लें। )
आप एक कसबे में रहते हैं, मोटरसाइकिल से
कही जा रहे थे, एक्सीडेंट हो गया, चोट लग
गयी। अस्पताल 2 km दूर है, बगल से एक
ऑटो रिक्शा वाला जा रहा है। अस्पताल
2 km दूर है ऑटो वाला कहता है 2000 रु
लूँगा पहले, तब छोडूंगा अस्पताल तक..
आप
क्या करेंगे??
मान लीजिये आपने मना कर
दिया दूसरा ऑटो वाला आ गया,
वो बोला चलो मैं 1000 में छोड़ देता हूँ।

पहला ऑटो वाला उस से भिड गया.. साले
मेरी सवारी खराब कर रहा है, रेट बिगाड़
रहा है। दूसरा ऑटो वाला डर के भाग
गया.. आप क्या करेंगे ????



चलो इसे छोडिये अब.. ये सिर्फ समझाने के
लिये था। असली मुद्धे पर आते है।आपके पिता जी को "हार्ट अटैक" हो गया..
डॉक्टर कहता है Streptokinase इंजेक्शन
ले के आओ..9000 रु का.... इंजेक्शन
की असली कीमत 700 - 900 रु के बीच है
पर उसपे MRP 9000 का है। आप
क्या करेंगे????






आपके बेटे को टाइफाइड हो गया. डॉक्टर ने
लिख दिया कुल 14 Monocef लगेंगे।
होलसेल दाम 25रु है. अस्पताल का के…

एक्सप्रेस वे पर रोजाना गाड़ियों के टायर फटने के मामले सामने आ रहे ह

चित्र
आजकल नए बने एक्सप्रेस वे पर रोजाना गाड़ियों के टायर फटने के मामले सामने आ रहे हैं......🚗🚗🚗🚗🚗🚗🚗

जिनमें रोजाना कई लोगों की जानें जा रही हैं.एक दिन बैठे बैठे मन में प्रश्न उठा कि आखिर देश की सबसे आधुनिक सड़कोँ पर ही सबसे ज्यादा हादसे क्यूँ हो रहे हैं?और हादसों का तरीका भी केवल एक ही वो भी मात्र टायर फ़टना, ऐसा कौन सी कीलें बिछा दीं सड़क पर हाईवे बनाने वालों ने कि सबके टायर ही फ़टते है?😳
दिमाग ठहरा खुराफाती सो सोचा आज इसी बात का पता किया जाये. तो टीम जुट गई इसका पता लगाने में.अब सुनिए हमने
प्रयोग के लिए एक मित्र को बुला लिया और हम scorpio SUV से निकल पड़े  (ध्यान रहे असली मुद्दा टायर फटना है) सबसे पहले हमनें ठन्डे टायरों का प्रेशर चेक किया और उसको अन्तराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप ठीक किया जो कि 25 PSI है..(सभी विकसित देशों की कारों में यही हवा का दबाव रखा जाता है जबकि हमारे देश में लोग इसके प्रति जागरूक ही नहीं हैं या फिर ईंधन बचाने के लिए जरुरत से ज्यादा हवा टायर में भरवा लेते हैं जो की 35 से 45 PSI आम बात है)खैर अब आगे चलते हैं. इसके बाद मुंबई आगरा फोर लेन पर हम खलघाट से भोपाल की त…