18+ अच्छी बातें अजब गज़ब अध्यात्म अनोखा अपना देश अमोल दिल से अरे गजब अरे गज़ब अरे बाप रे आध्यात्म आपकी राशि आयुर्वेद आयूर्वेद आश्चर्यजनक इस्लाम उपाय ओशो कविता कहानिया कुण्डली खरी खरी खान-पान गजब के शोध गरम मसाला गृह योग ग्रन्थ चमत्कार चुटकुले जिंदगी ज्योतिष टॉप 10 टोटके त्यौहार दीपावली दुनिया दो लाइन शायरी धर्म नुख्से पूजा प्रेम प्रसंग प्रेरणास्प्रद कहानिया बास्तु-शास्त्र बॉलीवुड ब्यंग्य मंत्र मजेदार मज़ेदार जानकारी मध्यप्रदेश मनोरंजन महाभारत राजनीति राजस्थान लाइव राम चरित्रमानस राष्ट्रीय ख़बरें रोचक जानकारी वायरल सच वास्तु शास्त्र विदेश शायरी शिवपुरी संभोग से समाधि की और सच का सामना सतर्क सदविचार सामाजिक जानकारी सेक्स ज्ञान सोशल मीडिया स्वास्थ्य हँसना मना है हस्त रेखा ज्ञान हिंदू धर्म की महानता हिन्दुओं के प्राचीन 111 मंदिर हिन्दू त्यौहार हिन्दू ब्रत हीर-रांझा ABOUT SHIVPURI adults ajav gajav ALL DOCTORS amol dil se astrologer astrologer in shivpuri atm in svp ayurved BANK bollywood books Breaking News business CHARTERED ACCOUNTANTS CINEMA cloth store coaching and institute college comedy computer sales and service in shivpuri cricket Departments desh desi nukhse devostional devotional DISTRICT ADMINISTRATION doctors Electronics facebook fastivals Festivals financial food free ka gyaan free stuff Friendship fun gk Gwalior health helpline hindi shayari hindu Hindu Dharm history HOSPITAL Hot HOTELS IN SHIVPURI importent in indian culture INDUSTRY IN SHIVPURI Insurance Company internet cafe Jewellers in shivpuri job in shivpuri jobs and careers jokes kahaniya karera kolaras live Latest GK leak video and mms leak video or mms Love Guru Madhav National Park Shiv Madhav National Park Shivpuri Madhya Pradesh make money online mantra medical store mobile phones mobile shop in shivpuri modi Modi Magic National National News net cafe news offers offers in shivpuri osho Osho English PEOPLE Petrol Pump in shivpuri photo gallery photo post photo studio photos plywood and hardware Politics poll projects Property dealers Restaurant sad shayai sad stories Salute samsung saree house save girl child Schools in Shivpuri sher shayari shivpuri shivpuri city Shivpuri News shivpuri police shivpuri tourism shivpuri train Short News spiritual Stationery and printers stories tantra-mantra Tech News Technology teck news telephone numbers Television temples timepaas TIps n tricks Top 10 totke tourism usefull information vastu shastra waterfalls Website Design Development in Shivpuri whatsaap area wonders world

The real tiger of india..

 REGISTER FREE DOMAINS. BETTER CONFERENCING CALLS. FUTURISTIC ARCHITECTURE. MORTGAGE ADVISER. CAR DONATE VIRTUAL DATA ROOMS AUTOMOBILE ACCIDENT ATTORNEY



कृपया इस पोस्ट को पूरा जरुर पढ़े
======================

पिछले साल रिलीज हुई फिल्म "एक था टाइगर" ने बड़े परदे पर जबरदस्त धूम
मचाई थी....
इस फिल्म ने कमाई के सारे रिकार्ड तोड दिये थे और फिल्म के
हीरो सलमान खान ने भी खूब पैसा और वाहवाही बटोरी थी...
इस फोटो मेँ दिखाये गये ये शख्स "एक था टाइगर" फिल्म के सलमान खान
की तरह बहुत मशहूर तो नहीँ है और शायद ही कोई इनके बारे मेँ
जानता हो या किसी ने सुना हो? इनका नाम था रवीन्द्र कौशिक....
ये
भारत की जासूसी संस्था RAW के भूतपूर्व एजेन्ट थे...
राजस्थान के श्रीगंगानगर मेँ पले बढ़े रवीन्द्र ने 23 साल की उम्र मेँ
ग्रेजुएशनकरने के बाद RAW ज्वाइन की थी, तब तक भारत पाकिस्तान और
चीन के साथ एक-एक लड़ाई लड़ चुका था और पाकिस्तान भारत के
खिलाफ एक और युद्ध की तैयारी कर रहा था... जब भारतीय
सेना को इसकी भनक लगी तो साल 1975 में कौशिक को भारतीय जासूस
के तौर पर खुफिया मिशन के लिए पाकिस्तान भेजा गया और वहाँ उन्हें
नबी अहमद शेख़ का नाम दिया गया. पाकिस्तान पहुंच कर कौशिक ने
कराची के लॉ कॉलेज में दाखिल लिया और कानून में
स्तानककी डिग्री हासिल की. इसके बाद वो पाकिस्तानी सेना में
शामिल हो गए और मेजर के रैंक तक पहुंच गए, लेकिन पाकिस्तान
सेना को कभी ये अहसास ही नहीं हुआ कि उनके बीच एक भारतीय जासूस
काम कर रहा है. कौशिक को वहां एक पाकिस्तानी लड़की अमानत से
प्यार भी हो गया, दोनों ने शादी कर ली और उनकी एक बेटी भी हुई..
कौशिक ने अपनी जिंदगी के 30 साल अपने घर और देश से बाहर गुजारे. इस
दौरान पाकिस्तान के हर कदम पर भारत
भारी पड़ता था क्योंकि उसकी सभी योजनाओं की जानकारी कौशिक
की ओर से भारतीय अधिकारियों को दे दी जाती थी. इनकी बताई
जानकारियोँ के बलबूते पर भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ हर मोर्चे पर
रणनीति तैयार की! पाकिस्तान तो भारत के खिलाफ कारगिल युद्ध से
काफी पहले ही युद्ध छेड़ देता पर रवीन्द्र के रहते ये संभव ना हो पाया.. केवल
एक आदमी ने पाकिस्तान को खोखला कर दिया था! भारतीय
सेना को रवीन्द्र के जरिये रणनीति बनाने का पूरा मौका मिला और
पाकिस्तान जिसने कई बार राजस्थान से सटी सीमा पर युद्ध छेड़ने
का प्रयास किया उसे मुँह की खानी पड़ी!
इसलिए ये बात बहुत कम ही लोगोँ को पता है कि पाकिस्तान के साथ हुई
लड़ाईयोँ का असली हीरो रवीन्द्र कौशिक है... रवीन्द्र के बताये अनुसार
भारतीय सेना के जवानोँ ने अपने अतुल्य साहस का प्रदर्शन करते हुये पहलगाम
मेँ घुसपैठ कर चुके 50 से ज्यादा पाकिस्तानी सैनिकोँ को मार गिराया...
लेकिन दुर्भाग्य से 1983 में कौशिक का राज खुल गया. दरअसल रॉ ने ही एक
अन्य जासूस को कौशिक से मिलने पाकिस्तान भेजा था जिसे
पाकिस्तानी खुफ़िया एजेंसी ने पकड़ लिया. पूछताछ के दौरान इस जासूस
ने अपने इरादों के बारे में साफ़ साफ़ बता दिया और साथ ही कौशिक
की पहचान को भी उजागर करदिया. हालांकि रवीन्द्र ने किसी तरह
भागकर खुद को बचाने के लिये भारत सरकार से अपील की.. पर सच्चाई
सामने आने के बाद तत्कालीन इंदिरा गाँधी सरकार ने उसे भारत वापिस
लाने मेँ कोई रुचि नहीँ दिखाई! अंततः उन्हे पाकिस्तान मेँ ही पकड़
लिया गया और जेल मेँ डाल कर उन पर तमाम तरह के मुकदमेँ चलाये गये...
रवींद्र कौशिक को काफी लालच दिया गया कि अगर वो भारतीय
सरकार से जुड़ी गोपनीय जानकारी दे दें तो उन्हें छोड़ दिया जाएगा.
लेकिन कौशिक ने अपना मुंह नहीं खोला, इस पर कौशिक को भयंकर टार्चर
भी किया गया...
फिर पाकिस्तान में कौशिक को 1985 में मौत की सजा सुनाई गई जिसे
बाद में उम्रकैद में तब्दील कर दिया गया. कौशिक को मियांवाली की जेल
में रखा गया और वही टीबी और दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत
हो गई....
तो ये सिला मिला रवीन्द्र कौशिक को 30 साल की देशभक्ति का..
भारत सरकार ने भारत मेँ मौजूद रवीन्द्र से संबंधित सभी रिकार्ड
मिटा दिये और RAW को धमकी दी कि अपना रवीन्द्र के मामले मे
अपना मुँह बंद रखे...
रवीन्द्र के परिवार को हाशिये मेँ ढकेल दिया गया और भारत का ये
सच्चा सपूत हमेशा के लिए गुमनामी के अंधेरे मेँ खो गया...
"एक था टाइगर" नाम की फिल्म रवीन्द्र कौशिक के जीवन पर
ही आधारित है, जब इस फिल्म का निर्माण हो रहा था तो भारत सरकार
के भारी दखल के बाद इसकी स्क्रिप्ट मेँ फेरबदल करके इसकी कहानी मे
बदलाव किया गया....पर मूल कथा वही है!
इसलिए दोस्तो इस देशभक्त को गुमनाम ना होने देँ, , जब भी "एक
था टाइगर" फिल्म देखे, तब इस असली टाइगर को जरूर याद कर लें.
..



Please read this post must meet
======================
The film was released last year, "ek tha Tiger" tremendous splash on the big screen
Were hit ....
This movie has broken the record for earnings and film
Salman Khan was also earned plenty of money and accolades ...
These are shown in this photo Realized man "was a Tiger" Salman Khan film
Like so many famous and hardly any of these Nhiँ Realized
Anyone know or have heard? That was his name .... Ravindra Kaushik
Was a former agent of the Indian spy agency RAW ...
Ravindra Sri Ganganagar, Rajasthan, the 23-year-old grew up Realized Realized
Grejuasnkrne had joined the RAW, then Pakistan and India
Had been fighting a war with China and Pakistan-India
Was preparing for another war ... against the Indian
It came to force in 1975, the year the Indian spy Kaushik
As an intelligence mission to Pakistan and sent them
Sheikh Ahmed was the name of the prophet. Pakistan reached Kaushik
Was admitted to the Law College in Karachi and Law
Stankki degree. He then Pakistani Army
Joined and reached the rank of Major, but Pakistan
Sometimes she did not realize that his army between an Indian spy
Is working. A Pakistani girl from the trust Kaushik
Also fell in love, got married and had a daughter, both ..
Kaushik 30 years of his life spent outside their home country. The
At every step of the Pakistan India
Kaushik was a drag because of all plans
Was given by the Indian authorities. They said
Jankarioँ on the strengths of India against Pakistan on every front
Strategy! Kargil war against India from Pakistan
Ravindra on to live long before the war was not possible .. only
A man had hollow Pakistan! Indian
Ravindra got through the whole of the military strategy and
Pakistan to wage war on the border adjoining Rajasthan times
Attempts were worsted him!
So it's little wonder that Pakistan coincided with Logoँ
The real hero is ... Ravindra Ravindra Kaushik Ldhaiyoँ as discussed in
Jwanoँ Indian Army are performing their incredible courage Pahalgam
Realized Sanikoँ intrusion has killed more than 50 Pakistani ...
But unfortunately Kaushik secret was revealed in 1983. In fact the only one RAW
Kaushik, who was sent to Pakistan to meet other spy
Detained by Pakistani intelligence agency. During interrogation, the detectives
Clearly told about his intentions as well as Kaushik
Krdia also highlight the identification. However, any kind of Rabindra
Government urged to protect themselves by fleeing to the truth ..
After coming back to India by the then Indira Gandhi government
Realized showed no interest in bringing Nhiँ! Finally Realized Pakistan hold them
Realized taken and put in prison Mukdmeँ fired on them all the way ...
Ravindra Kaushik if he is that much touted Indian
Giving confidential information relating to the government, they will be left.
But Kaushik opened not his mouth, fierce Kaushik on Torture
Were also ...
Kaushik in Pakistan who was sentenced to death in 1985
Later in life has been transformed. Kaushik Mianwali jail
Placed in the same TB and death from heart attack
Happened ....
So it got Silla Ravindra Kaushik patriotism of 30 years ..
Realized India all records relating to the Government of India Ravindra
And RAW threatening to be removed in the case of a Rabindra
Kept my mouth shut ...
Ravindra's family was driven Realized margins of India and the
Realized obscurity true son lost forever ...
"Tiger was named" Ravindra Kaushik's film on the life of
Is based, when the film was being built, Government of India
After the massive intervention in the economy by altering the story in the script
Were variations on the basic story is the same ....!
Friends Deँ the Patriots were not so anonymous, even when "a
Tiger had "seen the movie, then be sure to remember the real Tiger ...

Labels:
[blogger]

Author Name

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.