संदेश

September, 2014 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

लेकिन जाते-जाते वह 3 लोगों को जिंदगी दे गईं। but she go 3 people were given life.Unconscious

चित्र
26/11 मुंबई हमले में शहीद एटीएस
चीफ हेमंत करकरे
की पत्नी कविता करकरे का सोमवार को ब्रेन
स्ट्रोक की वजह से निधन हो गया, लेकिन जाते-जाते वह
3 लोगों को जिंदगी दे गईं।
बेहोशी की हालत में
कविता को पीडी हिंदुजा हॉस्पिटल लाया गया था।
शनिवार को उन्हें ब्रेन हैमरेज हो गया था, जिसके बाद वह होश में
नहीं आईं। डॉक्टर ने बताया कि हैमरेज
की वजह से उनके दिमाग के लिए खून
की सप्लाई रुक गई थी। वह दिल से
जुड़ी समस्याओं से भी जूझ
रही थीं।
सोमवार को उनकी बेटियों के अमेरिका से भारत पहुंचने तक उन्हें
वेंटिलेटर पर रखा गया था। बाद में भाई-बहनों ने अपनी मां के अंग
जरूरतमंद मरीजों को दान देने का फैसला किया। उनकी एक
किडनी 48 साल के शख्स को दान की गई, जो पिछले एक
दशक से डायलिसिस पर जिंदा था।
दूसरी किडनी 59 साल के एक शख्स
को दी गई, जो कि पिछले 7 साल से किडनी मिलने
का इंतजार कर रहा था। करकरे ने 49 साल के एक अन्य शख्स
को भी जिंदगी दी, जो पिछले कुछ सालों से
लिवर फेल होने से जूझ रहा था। इसके अलावा कविता की आंखें एक
हॉस्पिटल के आइ बैंक को दान की गई हैं।
हिंदुजा के डॉक्टर्स ने बताया कि कविता के बच्चों आकाश, सयाली और
जुई …

यह शिवलिंग कितना चमत्कारी है?अपनी राय दे| The Lingam is so miraculous?Give your opinion

चित्र
सतना: यह शिवलिंग कितना चमत्कारी है?
अपनी राय दे..


एमपी के सतना में एक शिवलिंग है जिसे आप ज़ोर लगाकर
हिला नहीं सकते. लेकिन भोले बाबा का नाम लेकर एक
छोटी उंगली से भी इसे हिलाया जा सकता है.
अपने विचार हमें भेजें. मध्य प्रदेश के सतना में यह चमत्कारी शिवलिंग लोगों को कौतूहल
का विषय बना हुआ है. सतना से करीब 50 किलोमीटर दूर जसो गांव में एक
प्राचीन शिव मंदिर है. देखने में तो यह मंदिर और
मंदिरों जैसा ही है. लेकिन यहां के शिवलिंग ने इसे खास बना दिया है. इस मंदिर में छह फीट लंबा शिवलिंग है. मान्यता है कि लोगों के जोर
से यह टस से मस नहीं होता लेकिन सच्चे मन से भोलेनाथ का नाम
लेकर अगर सबसे छोटी उंगली से भी जोर
लगाया जाए तो यह हिल जाता है.
लोगों का कहना है कि शिवजी का नाम लेने से शिवलिंग तो हिल
ही जाता है साथ ही मुराद
भी पूरी हो जाती है. मान्यता है कि यह चमत्कारी शिवलिंग है जो छह फीट
तो जमीन से ऊपर है. इसके अलावा अंदर कितना है ये
किसी को नहीं मालूम. क्या आप समझते हैं कि यह वाकई चमत्कार है? इसके बारे में आपके
क्या विचार हैं, इसका हमें इंतज़ार है.
आप नीचे दिए फॉर्म के ज़रिए
अपनी टिप्पणी हमें भेजें.. हम इसे

Ved Vyas Caveवेद व्यास गुफा,जहाँ लिखी गयी थी महाभारत

चित्र
Ved Vyas Cave
वेद व्यास गुफा,
जहाँ लिखी गयी थी महाभारत -
बद्रीनाथ धाम के समीप स्थित माणा गांव
पर्वतीय क्षेत्र है। इसलिए इसके आस-पास अनेक
चट्टानों में गुफाएं हैं। प्राचीन काल में इन गुफाओं में
बैठकर ही ऋषि-मुनियों ने तपस्या की। इन
गुफाओं में सबसे प्रसिद्ध है - व्यास गुफा।
मान्यता है कि इसी गुफा में महर्षि वेद व्यास ने
महाभारत की रचना की थी।
महाभारत जैसे महान और बड़े ग्रंथ की रचना के लिए
जिस शांत माहौल और एकाग्रता की जरुरत
थी। वह आज भी इस गुफा में प्रवेश करने
पर महसूस होती है।
व्यास गुफा बड़े क्षेत्र में फैली है। इस गुफा में वेद व्यास
की प्रतिमा है। व्यास
गुफा सरस्वती नदी के तट पर स्थित है।
इसके समीप अलकनंदा और
सरस्वती नदी का संगम है। यह स्थान
केशव प्रयाग कहलाता है। माणां गांव के ऊपरी क्षेत्र में
स्थित हिमनद से सरस्वती का उद्गम माना जाता है। यह
माणां गांव के पास से गुजरती हुई केशव प्रयाग में
अलकनंदा से मिल जाती है।
सरस्वती नदी का जल साफ और
नीला दिखाई देता है। मान्यता है कि
वेदव्यास ने सरस्वती नदी के किनारे पर
महाभारत के साथ ही श्रीमद्भागवत और
१८ पुराणों की रचना की। जो एक दिव्य और
अद़भुत…

Why Lord Shiva called kedarnaath ..क्यों कहलाते हैं भगवान शिव केदारनाथ..

चित्र
Says
The fate of those who visit Sri Kedarnath
Make it. हिंदी अनुवाद और छाया चित्र नीचे है Anyone who bull
Seated in the back of the pattern
Mahadev has seen, he's been blessed!
Mr. Kedarnathka Temple 3593 feet
Made at the height of
A grand and magnificent temple.
How the temple was built at such heights,
Imagine today
Can not! The temple is on a six feet high Chaukorpletfarm
Remains. In the main part of the sanctuary around the temple pavilion and encompass the path
's. Nandi the bull as the vehicle sits outside in the courtyard.
Who made the construction of the temple,
It does not mention any authentic | Why Lord Shiva Kedarnath called .. Lord Shiva has many names, including the name Kedarnath
Too. Kedarnath twelve Jyorthylingon
Are known to be in one. They had the time and the name of the Golden Age
Since then, Uttarakhand
From the Himalayas to the holy land of Lord Shiva Kedarnath name
The highest peak is seated.
According to legend, Lord Vishnu described in the Puranas Golden Ag…

पहाड़ों को चीरता हुआ निकला शिवलिंग, और लिपट गए आकर हजारों सांप | Shiva ling came flying through the mountains, and embrace the coming of thousands of snakes

चित्र
फोटो और हिंदी अनुवाद नीचे है...Shiva ling came flying through the mountains, and embrace the coming of thousands of snakes

Chandigarh. It is the year 2007, when the capital of Himachal Pradesh, Shimla and Naldehra near Bldehra mountains near the blast was being road construction.






This religious site neighboring states of Haryana, Punjab and Chandigarh faith remains.
These states forehead resting on the weekends, thousands of tourists come here.
The priest Hemraj know the secret of the temple.
Shiva cave story is a miracle in itself. Sheshnag on the rocks inside the cave appears to feature, as well as a sculpted Ganesha appears on the stones.
Says there are thousands of snakes come out as soon as it Shivling Shivling was wrap.
Stepping out of Shivling there was another miracle.So was the whole story of the Shiva cave, where even today are only visible on the Shivling snake wrapped.
Strot- Dainik BhaskarA City live dot com
पहाडों को चीरता हुआ निकला शिवलिंग, और लिपट गए आकर हजारों सांप
चंडीगढ़। यह…

Agrasen ji's birth anniversary अग्रसेन जी की जयंती २५ सितम्बर २०१४ दिन गुरूवार पर विशेष

चित्र
अग्रसेन जी की जयंती २५ सितम्बर २०१४ दिन गुरूवार पर विशेष :--रोहित बंसल शिवपुरीमहाराजा अग्रसेन (४२५० BC से ६३७ AD) एक पौराणिक समाजवाद के प्रर्वतक, युग पुरुष, राम राज्य के समर्थक एवं महादानी थे। वे अग्रोहा गणराज्य केमहाराजा थे।जीवन परिचय :-धार्मिक मान्यतानुसार इनका जन्म मर्यादा पुरुषोतम भगवान श्रीराम की चौंतीसवी पीढ़ी में सूर्यवशीं क्षत्रिय कुल के महाराजा वल्लभ सेन के घर में द्वापर के अन्तिमकाल और कलियुग के प्रारम्भ में आज से ५१८५ वर्ष पूर्व हुआ था। उनके राज में कोई दुखी या लाचार नहीं था। बचपन से ही वे अपनी प्रजा में बहुत लोकप्रिय थे। वे एक धार्मिक, शांति दूत, प्रजा वत्सल, हिंसा विरोधी, बली प्रथा को बंद करवाने वाले, करुणानिधि, सब जीवों से प्रेम, स्नेह रखने वाले दयालू राजा थे। महाराज अग्रसेन एक क्षत्रिय सूर्यवंशी राजा थे। जिन्होंने प्रजा की भलाई के लिए वणिक धर्म अपना लिया था। इनका जन्म द्वापर युग के अंतिम भाग में महाभारत काल में हुआ था। ये प्रतापनगर के राजा बल्लभ के ज्येष्ठ पुत्र थे।विवाह :-समयानुसार युवावस्था में उन्हें राजा नागराज की कन्या राजकुमारी माधवी के स्वयंवर में शामिल होने का न…

Love Shayari SMS in Hindi With Lovely Images

चित्र
Jaan Kar Anjan Banna Acha Lagta Hai
Mujey Unko Apne Liay Pareshan Karna Acha lagta hai,

Muje Woh Karte Rahe Piyar Ka Iqrar
Bar Bar Nadan Ban Kar Har Bar Sunna Acha Lagta Hai...!!!






Uski Batain Bar Bar Yaad Karke Roye
Uske Liye RABB Se Faryaad Karke Roye,

Uski Khushi Ke Liye Choord Diaa Usey
Phir Uski Hi Kami Ka Ehasas Karke Roye...!!!







Koi Judaa Ho Gaya Koi Khafa Ho Gaya
Najane Zindgi Me Humse Kyaa Gunah Ho Gaya,

Hindi Love Shayari SMS with Images

चित्र
Sadyon Se Ik Sapna Hai,
Kaho Pura Karo Gey Tum?

Bhol Jao Mere Siwa Sab Kuch,
Kaho Aisa Karo Gey Tum?

Nhi Kuch Or Tamana Ab,
Ke Bus Mery Ho Jao Tum,

Kabi Na Chor Ke Jao Gey,
Kaho Aisa Karo Gey Tum?

Faqt Ik lafz Sunne Ko,
Kai Barson se Tarsy Hain,

MUJHE APNA BANA LO TUM,
Kaho Aisa Karo Gey Tum...??






Mily To Hazaroon Loog They Zindgi Me, Magar woh Sab Se Alag Tha Jo Qismat Me Nahi Tha...!!!